युवाओं के लिए 10 सेक्स टिप्स | Sex Tips For Youngsters In Hindi

अक्सर देखा जाता है कि सेक्स के नाम से ही ज्यादातर युवा अति-उत्साहित हो जाते हैं। क्योंकि उनके लिए सेक्स हमेशा ही रहस्यमयी रहा है। जब भी उन्हें सेक्स करने का मौका मिलता है तो वे असंतुलित हो जाते हैं। कई बार इसी उत्साह के कारण वे अनेक गलतियां भी कर बैठते हैं। इसलिए सेक्स के समय युवाओं का मानसिक रूप से स्वस्थ व परिपक्व होना बेहद जरूरी है। 

इस लेख के माध्यम से युवाओं को यह बताने का प्रयास किया गया है कि सेक्स से पहले किन बातों पर ध्यान देना चाहिए और कौन-कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए इसलिए लेख को अंत तक पढ़ें।


best-sex-tips-for-youngsters-in-hindi


10 बेस्ट सेक्स टिप्स | 10 Best Sex Tips For Youngsters In Hindi


1- युवाओं को सेक्स के समय बहुत ज्यादा जल्दबाजी नही करना चाहिए बल्कि सेक्स करने से पहले दोनों पार्टनर को आपस में बात करके एक-दूसरे के मन से हिचकिचाहट और डर को निकालना जरूरी है। सेक्स से पहले दोनों पार्टनर का एक-दूसरे से भावनात्मक लगाव भी बहुत जरूरी होता है।


इसका भी ध्यान रखें कि सेक्स से पहले ऐसी कोई बात न करें जिससे आपके साथी का मूड खराब हो जाए।


2- सेक्स को कभी भी गंदे रूप में न देखें क्योंकि ऐसा देखा गया है कि यदि आपका पार्टनर सेक्स से पहले खुश है और सेक्स के समय फोरप्ले होता है तो आपकी लाइफ में आधे से ज्यादा तनाव यूं ही कम हो जाते हैं।


सेक्स का मतलब यह नहीं है कि हमेशा शारीरिक संबंध ही बनाया जाए बल्कि आप अपने साथी के साथ ओरल सेक्स या किसी अन्य तरीके को भी एन्जॉय कर सकते हैं।


3- युवाओं को ध्यान रखना चाहिए कि वे सावधानी और स्वेच्छा से ही सेक्स को भली-भांति एन्जॉय कर कर पाएंगे।


 किसी सेक्स प्रोफेशनल महिला या पुरुष के साथ बाहर संबंध बनाने से बचना चाहिए क्योंकि ना सिर्फ ऐसी किशोरियों में सेक्स समस्या होती है, बल्कि अधिक उम्र की महिलाओं में भी तमाम तरह की सेक्स संबंधित बिमारियां आम बात है।


4- सेक्स करने से पहले पुरुष और महिला दोनों को ही एक दूसरे के शारीरिक अंगों के बारे में जानकारी होनी चाहिए जिससे सेक्स का भरपूर आनंद ले सकें।


5- अगर आप बच्चा नहीं चाहते हैं और न ही किसी तरह की सेक्स समस्याओं से ग्रसित होना चाहते हैं तो सेक्स से पहले कुछ सावधानियां बरतना जरूरी है। जैसे कि सेक्स से पहले स्वच्छता संबंधी नियमों का पालन करना, कंडोम या गर्भनिरोधक गोलियों का प्रयोग करना आदि-आदि।


6-  यदि आप मानसिक रूप से अपने साथी से संतुष्ट हैं तभी आप मानसिक और शारीरिक तौर पर स्वास्थ्य रह पाएंगे।


 सेक्स के लिए सावधानी और सुरक्षा बहुत जरूरी है तभी आप इसका सही से आनंद ले पाएंगें।


7- सेक्स दिल को मजबूत बनाता है जिससे दिल से जुड़ी बीमारियों की संभावना काफी कम हो जाती हैं।


सप्ताह में दो या इससे अधिक बार सेक्स करने से महिलाओं में घातक दिल के दौरे की संभावना उन महिलाओं की तुलना में काफी कम हो जाती है जो सेक्स नही करती हैं या कम करती हैं।


8- सेक्स महिलाओं में कैंसर,सिस्ट जैसी बीमारियों के खतरे को भी काफी कम करता है तथा इससे कई बीमारियां जैसे गठिया सिर दर्द आदि में भी राहत मिलती है।


सेक्स महिलाओं में आत्मसम्मान को भी बढ़ाता है यह एक तरह का शारीरिक व्यायाम है जो आप को स्वस्थ व सक्रिय बनाए रखता है।


9- जो युवक सेक्स के दौरान सही तरीके से यौन क्रियाएं नहीं कर पाते हैं या फिर बहुत जल्दी डिस्चार्ज हो जाते हैं तो इसका अर्थ है कि उनमें नपुंसक होने के लक्षण मौजूद हैं।


दरअसल नपुंसकता का संबंध सीधे तौर पर ज्ञानेंद्रियों से होता है ऐसे में नवयुवक कई बार इस बारे में परामर्श नहीं ले पाते जिससे रोग बढ़ने की संभावना बढ़ जाती है।


10- हालांकि नपुंसकता अधिक उम्र के व्यक्तियों में ज्यादा पाई जाती है ऐसे पुरुष महिलाओं के पास जाने से भी घबराते है, ऐसे व्यक्ति की महिला साथी कभी भी पूर्ण रूप से संतुष्ट नहीं हो पाती है।


कुछ पुरुष नपुंसक नहीं भी होते हैं लेकिन घबराहट और मन में डर का कारण भविष्य में ऐसे पुरुषों को नपुंसक बना देता है। ऐसे लोग घबराहट के कारण अपनी महिला साथी से दूर-दूर रहने लगते हैं।


इसलिए सेक्स को कभी बोझ न समझें बल्कि खुशी-खुशी इसका आनंद उठाएं।


एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने