बालों में मेहंदी कैसे लगाएं | बालों में मेहंदी लगाने का तरीका

भारत में सौंदर्य प्रसाधन के रूप में मेंहदी का उपयोग प्राचीन काल से ही होता आ रहा है। हाथों तथा पैरों में महिलाओं का मेहंदी लगाना आम बात है। विवाह, तीज-त्यौहार जैसे विशेष अवसरों पर महिलाएं इस प्राकृतिक सौंदर्य प्रसाधन का हमेशा उपयोग करती रहती हैं।

मेहंदी की पत्तियों में गहरा कत्थई रंग निकलता है यही विशिष्ट रंग मेहंदी का विशिष्ट गुण है। 

बालों को रंगने में मेहंदी की उपयोगिता तो सभी जानते हैं। परन्तु कई लोगों की धारणा ये भी है कि मेहंदी बालों को नुकसान पहुंचाती है लेकिन यह सिर्फ भ्रांति ही है। वास्तव में केमिकल्स मिली हुई मेहंदी जो आजकल मार्केट में प्रचुरता से मिल रही है वही बालों को नुकसान पहुंचाती है।


 स्वच्छ, असली, प्राकृतिक मेहंदी बालों को विशेष रंग देने के साथ-साथ बालों के जड़ों को मजबूती तथा उन्हें पोषण प्रदान करती है।


बालों में लगाने के लिए मेहंदी में कुछ खास चीजें जैसे- चाय की पत्ती का गाढ़ा पानी, दही, अंडा, नींबू का रस, आंवले का रस बालों की जरूरत के अनुसार मिलाकर फिर सिर पर लेप किया जाए तब बालों को और अधिक पोषकता मिलती है।

बालों के लिए मेहंदी न केवल हेयर डाई है बल्कि यह बेहतरीन हेयर कंडीशनर सिद्ध होती है।


बालों में मेहंदी कैसे लगाएं


आवश्यक सामग्री


मेहंदी पाउडर- दो कप, दो या तीन अंडे, काफी पाउडर- दो चम्मच, चाय की पत्ती- चार चम्मच, कत्था पाउडर एक चम्मच, चीनी आधा चम्मच।


निर्माण विधि


डेढ़ गिलास सादा पानी एक बर्तन में डालकर उसमें चाय और कॉफी डालकर उबालें, फिर छान लें, अब इस छने हुए द्रव्य में कत्था तथा मेहंदी पाउडर घोलें और रातभर किसी लोहे के बर्तन में यूं ही रखा रहने दें।

प्रातः इसमें 2-3 अंडों की जर्दी मिलाकर अच्छी तरह से फेटकर चीनी मिला दें। अब तैयार है बालों में लगाने के लिए प्राकृतिक डाई।


बालों में मेहंदी लगाने का तरीका


बालों को मामूली पानी की सहायता से नम कर लें फिर इस तैयार पेस्ट को अच्छी तरह बालों में जड़ों से लेकर सिरे तक लगाएं। बाद में प्लास्टिक की कैप या प्लास्टिक की थैली से सिर को ढक लें कम से कम 4 घंटे तक यह पेस्ट लगा रहने के बाद धो दें, और बालों को सुखाएं।

 यदि आपके बाल रूखे या खुश्क हैं तो धोने के बाद तेल लगाएं फिर शैंपू करें। इस डाई का सही असर दूसरे दिन  मालूम पड़ता है जब बालों का रंग गहरा दिखाई देने लगता है।


बालों में मेहंदी लगाने के कुछ खास दिशा निर्देश


# यदि बाल ज्यादा सफेद हैं, तथा बालों में मेहंदी का प्रयोग पहली बार कर रहे हैं, तब 4 या 5 दिन नित्य 4-5 घंटे इस पेस्ट को तैयार करके लगाते रहें तभी बालों का रंग सुंदर बन सकेगा।

 इसके लिए मेहंदी का घोल तो एक ही बार में चार-पांच दिनों के लिए पर्याप्त मात्रा में तैयार कर लें तथा इसमें से एक बार के लिए उपयोग होने वाली मात्रा निकालकर उसमें अंडे मिला लिया करें।


# यदि बाल कड़े और उलझते हों तब बालों को सीधा और नर्म बनाने के लिए मेहंदी का प्रयोग दही और अंडे के साथ करें।


# मेहंदी की प्रकृति शीतल होती है अतः खांसी, जुकाम और माहवारी के दिनों में मेहंदी का प्रयोग ना करें।


बालों में मेहंदी लगाने के लाभ


# इसके प्रयोग से बालों में रूसी की समस्या दूर हो जाती है।


# इससे डाई के दुष्प्रभाव दूर हो जाते हैं।


# बालों को पोषण मिलता है तथा उनमें चमक आ जाती है।


# सिरदर्द और अनिद्रा जैसी शिकायतें भी दूर होती है।


बालों में मेहंदी लगाने से जुड़े कुछ सवालों के जवाब


Q- मैं अंडे का प्रयोग नहीं कर सकती फिर मुझे क्या करना चाहिए?


A- आप मेहंदी में अंडे की जगह ताजा दही का इस्तेमाल कर सकती हैं। लेकिन ध्यान रहे दही खट्टा और बासी ना हो।


Q-  बालों में तेल कब लगाना है, मेहंदी लगाने से पहले या बाद में ?


A- मेहंदी लगाने से एक रात पूर्व सिर में तेल की मालिश कर लें अथवा मेहंदी लगाकर बाल धोने के बाद तेल बालों में उस समय लगाएं जब बाल कुछ नरम हो। अगले दिन शैंपू कर सकती हैं


Q- क्या ज्यादा समय तक बालों में मेहंदी लगाए रखना नुकसानदेह है ?


A- हां, अधिकतम 5 घंटे तक ही बालों में मेहंदी लगी रहे इससे ज्यादा समय मेहंदी लगाए रखने से बालों को नुकसान पहुंचता है और तब मेहंदी बालों की नमी को सोख कर उन्हें बेजान बनाती है


Q- यदि मैं बालों को ज्यादा गहरा रंगना चाहूं, तो क्या मुझे ज्यादा समय तक मेहंदी लगा रखना चाहिए ?


A- नहीं, क्योंकि मेहंदी 4 या 5 घंटे में ही अपना रंग दे देती है। इससे अधिक समय तक मेहंदी लगाए रखने से वह बालों की नमी सोखकर नुकसान ही पहुंचाती है।

यदि 12 घंटे तक भी मेहंदी लगाए रखेंगे तब भी बालों का रंग उतना ही गहरा होगा जितना चार-पांच घंटों में।

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने