[T20 WorldCup 2022] | पाकिस्तान के सेमीफाइनल खेलने का गणित

india-vs-pakistan

 टी20 वर्डकप 2022 सुपर 12 के ग्रुप 2 का मैच जो 27 अक्टूबर को ज़िम्बाब्वे और पाकिस्तान के बीच खेला गया इसमे ज़िम्बाब्वे ने बड़ा उलटफेर करते हुए रोमांचक मुकाबले मे पाकिस्तान को 1 रन से हराकर इस वर्डकप मे बड़ा उलटफेर कर दिया है।

इस हार के बाद पाकिस्तान का सेमीफाइनल का सफर लगभग खत्म माना जा सकता है। इस हार के बाद इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान का भाग्य अपने ग्रुप की अन्य टीमों के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा।

टीम इंडिया जहां अपने दोनों को मुकाबलों को जीतकर 4 अंको के साथ अपने ग्रुप की अंकतालिका में शीर्ष स्थान पर विराजमान हो गई है।


वहीं दक्षिण अफ्रीका 3 अंको के साथ अंकतालिका में दूसरे नंबर पर है। पाकिस्तान से जीत के बाद ज़िम्बाब्वे के भी 3 अंक हो गए है और अंकतालिका में भी तीसरे स्थान पर अपना कब्जा जमा लिया है।

ग्रुप मुकाबले में साउथ अफ्रीका और ज़िम्बाब्वे के बीच मुकाबला बारिश के कारण रद्द करना पड़ा था और दोनों टीमों को 1-1अंक पाकर संतुष्ट होना पड़ा था।


इस ग्रुप की एक अन्य टीम बांग्लादेश भी अपने 2 मुकाबले खेल चुकी है जिसमे उसने अपने पहले मैच में नीदरलैंड को हराया था और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने दूसरे मैच में इसे हार का मुंह देखना पड़ा था। इस प्रकार 2 अंको के साथ बांग्लादेश अंकतालिका में चौथे स्थान पर है।


जबकि पाकिस्तान अपने दोनों मैच हारकर 0 अंको के साथ अंकतालिका में पांचवे स्थान पर है। नीदरलैंड भी अभी तक के अपने दोनों मुकाबले हार चुका है और 0 अंको के साथ अंकतालिका में सबसे आखिरी स्थान पर है।


अंकतालिका के आधार पर देखा जाए तो पाकिस्तान का आगे का सफर बहुत मुश्किलों से भरा होने वाला है और सेमीफाइनल तक पंहुचने की आस भी काफी धूमिल हो चुकी है।


देखा जाए तो इस ग्रुप की  सभी टीमों ने अपने 2-2 मैच पूरे कर लिए हैं और 3-3 मुकाबले सभी के बाकी हैं। जहां तक टीम इंडिया की बात है तो वह पहले ही अपने दोनों मैच जीतकर ग्रुप 2 में शीर्ष स्थान बना चुका है और यदि भारत अपने बचे हुए 3 मुकाबलों में से दो में भी जीत हासिल कर लेता है तो आसानी से सेमीफाइनल में पहुंच जाएगा टीम इंडिया के अभी तक के प्रदर्शन को देखते हुए लगता है कि भारत को इसमे ज्यादा मुश्किल आने वाली नही है।


क्योंकि टीम इंडिया का साउथ अफ्रीका के साथ मुकाबला ही कुछ कठिन हो सकता है उसके बाद के दो मुकाबले अपेक्षाकृत कमजोर टीमों ज़िम्बाब्वे और बांग्लादेश के खिलाफ होने हैं जहां टीम इंडिया को कोई खास परेशानी नही होने वाली है।


वहीं अंकतालिका में दूसरे स्थान पर बैठी साउथ अफ्रीका की बात करें तो उसे अपने बचे हुए 3 मैचों में से एक टीम इंडिया जैसी दिग्गज टीम के खिलाफ खेलना है और एक पाकिस्तान के साथ खेलना है पाकिस्तान भी अपने इस मुकाबले में पूरा दमखम झोंक देगी क्योंकि उसके लिए यह मुकाबला करो या मरो वाला होगा। इसके अलावा इसे एक मैच नीदरलैंड के खिलाफ खेलना है जहां इसे शायद कोई बड़ी चुनौती नही मिलने वाली है।


वैसे भी साउथ अफ्रीका का ज़िम्बाब्वे के खिलाफ मुकाबला वर्षा के कारण रद्द हो चुका है उसमें इसे 1 अंक से ही संतुष्ट होना पड़ा था।


अंकतालिका में तीसरे स्थान पर काबिज ज़िम्बाब्वे की टीम को जहां एक मुकाबला भारत से खेलना है वही 1-1 मैच बांग्लादेश और नीदरलैंड जैसी साधारण टीमों के साथ खेलना है ज़िम्बाब्वे के लिए कहा जा सकता है कि पाकिस्तान को हराने के बाद इसका मनोबल काफी बढ़ा हुआ है और यह टीम अपने ग्रुप में बड़ा उलटफेर करके जहां पाकिस्तान की सेमीफाइनल की राह बंद कर सकती है वही साउथ अफ्रीका के लिए भी काफी अड़चनें पैदा कर सकती है।


अभी तक की अंकतालिका में 2 अंको के साथ चौथे स्थान पर मौजूद बांग्लादेश की टीम को अपने बचे हुए 3 मुकाबले भारत, ज़िम्बाब्वे और पाकिस्तान के साथ खेलने है जिसमे बांग्लादेश कोई बड़ा उलटफेर कर पाएगी इसकी उम्मीद कम ही है।


team-india-wordcup


अंकतालिका में शून्य अंको के साथ पाकिस्तान पांचवे स्थान पर बैठी है और सबसे ज्यादा मुश्किलें भी इसी टीम के साथ अब जुड़ गई हैं अपने शुरुआती दोनो मैच पहला अपने चिरप्रतिद्वंद्वी इंडिया से और दूसरा ज़िम्बाब्वे जैसी कमजोर मानी जाने वाली से हारकर मनोवैज्ञानिक रूप से भी काफी हताश हो गयी है।


पाकिस्तान के मजबूत गेंदबाजी आक्रमण के आधार पर सबको अंदाजा था कि यह टीम कम से कम सेमीफाइनल तक का सफर तो आसानी से तय कर ही लेगी लेकिन अब उसके लिए सेमीफाइनल की राह काफी कठिन हो चुकी है क्योंकि अभी उसे अपना एक मुकाबला दक्षिण अफ्रीका जैसी मजबूत टीम के खिलाफ खेलना है। दो मुकाबले कुछ कमजोर टीमो जैसे बांग्लादेश और नीदरलैंड के खिलाफ खेलना है अगर यह दोनों मुकाबले पाकिस्तान जीत भी लेती है तब भी कोई बहुत फायदा नही मिलने वाला है।


पाकिस्तान को सेमीफाइनल तक पहुंचने के लिए बचे हुए अपने तीनो मुकाबले तो जीतने ही पड़ेंगे साथ ही भाग्य का साथ मिलना भी जरूरी है जिसमे बांग्लादेश और नीदरलैंड जैसी टीमों को भी अपने एक -दो मैच जीतने होंगे और इन्द्र देवता की भी मेहरबानी जरूरी है क्योंकि कहीं नीदरलैंड या बांग्लादेश के खिलाफ बारिश ने अपना खेल दिखा दिया तो फिर एक अंक से ही समझौता करना पड़ेगा।


आगे क्या होगा ये तो समय ही बताएगा लेकिन पाकिस्तान के सामने बहुत सी चुनौती खड़ी हैं जिनको पार पाकर सेमीफाइनल तक पहुंचना अब इतना आसान नही है।


ग्रुप 2 की अंकतालिका में सबसे नीचे छठे नंबर पर बैठी नीदरलैंड की टीम से तो कोई बड़ी उम्मीद नही है लेकिन फिर भी वो एक-आध मैच जीतकर ही अपना इस टी20 वर्डकप का सफर समाप्त करना चाहेगी।

[T20 World Cup] इंडिया Vs साउथ अफ्रीका | क्या भारत साउथ अफ्रीका को हरा पाएगा ?


एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने