रसभरी के फायदे और नुकसान-Raspberries Benefits And Side Effects In Hindi

रसभरी (Raspberries In Hindi) :

रसभरी एक फल होता है। रसभरी नारंगी रंग और छोटे से टमाटर की जैसी दिखाई देती है। रसभरी एक छोटा सा पौधा होता है। इसके फलों के ऊपर एक पतला सा आवरण होता है। रसभरी को कहीं-कहीं पर मकोय, काकमाची, भटकोंइया भी कहा जाता है।

बेर के बारे में अधिक जानें : रसभरी (Raspberries)

रसभरी का पौधा किसानों के लिए एक तरीके से मुसीबत होता है क्योंकि यह पौधा खरपतवार की तरह उगता है इसलिए रसभरी फसलों के उगने के लिए मुश्किल पैदा करता है। रसभरी दो तरह के होते हैं काले और नारंगी रंग के। काले रंग का फल नारंगी रंग के फल से भी छोटा होता है।

रसभरी के फायदे (Benefits of Raspberry In Hindi) :

1. डायबिटीज में फायदेमंद : रसभरी के बीजों को लेकर उन्हें धूप में या छाँव में अच्छी तरह से सुखा लें। बीजों के सूखने के बाद उनका बारीक चुन बना लें। अब इस चूर्ण को एक चम्मच प्रतिदिन सुबह के समय लेने से डायबिटीज से छुटकारा पाया जा सकता है।

2. लंग कैंसर में फायदेमंद : रसभरी में पॉलीफिनॉल और केरिटिनॉयडस पाया जाता है जो कैंसर से लड़ने में हमारी मदद करती है।

3. आँखों के लिए फायदेमंद : जिन लोगों को आँखों की बीमारी होती है उन्हें रसभरी खानी चाहिए क्योंकि रसभरी में विटामिन ए पाया जाता है।

4. हड्डियों के लिए फायदेमंद : अगर आपको हड्डियों से जुड़ी समस्या है तो आप रसभरी की मदद से हड्डियों को स्वस्थ कर सकते हैं क्योंकि इसमें पेक्टिन पाया जाता है जो शरीर में कैल्शियम और फॉस्फोरस की सही मात्रा बनाए रखता है।

5. पाचन क्रिया में फायदेमंद : अगर आप रोज सुबह रसभरी का सेवन करते हैं तो आप अपने पाचन क्रिया को ठीक करने के साथ-साथ पाचन क्रिया को मजबूत कर सकते हैं।

6. वात-पित्त कफ में फायदेमंद : जिन लोगों को धुम्रपान की लत लगी होती है उनके लिए रसभरी बहुत अधिक फायदेमंद होती है क्योंकि इसके निरंतर सेवन से वात-पित्त कफ से छुटकारा पाने में हमारी मदद करती है।

7. सूजन या दर्द में फायदेमंद : अगर आपके शरीर में दर्द होता है तब भी आप रसभरी का उपयोग कर सकते हैं। आप प्रतिदिन रसभरी का सेवन करके सूजन और दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

8. किडनी के लिए फायदेमंद : अगर आपको भी किडनी से संबंधित समस्याएं हो रही हैं तो आप रसभरी की सब्जी बनाकर उसका सेवन कर सकते हैं। इसकी सब्जी का सेवन करने से किडनी से संबंधित सभी रोग ठीक हो जाएँगे।

9. ह्रदय के लिए फायदेमंद : रसभरी में कुछ ऐसे फाइटोकैमिकल्स तत्व पाए जाते हैं जो हमारे ह्रदय के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होता है। अगर आपकी ह्रदय की गति कम हो गई है तो आप रसभरी के पंचांग के काढ़े को पीकर अपने ह्रदय की गति को ठीक कर सकते हैं।

10. लीवर में फायदेमंद : लीवर से जुडी परेशानियाँ होने पर आप रसभरी का प्रयोग कर सकते हैं। रसभरी का प्रयोग करने से लीवर से जुडी सभी समस्याएं खत्म हो जाती हैं। आप रसभरी की सब्जी का सेवन करके भी लीवर से जुडी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

11. पीलिया में फायदेमंद : पीलिया से छुटकारा पाने के लिए आप रसभरी की कुछ पत्तियां लें। अब इन्हें अच्छी तरह से धो लें जिससे इन पर से धुल मिटटी निकल जाए। अब इन पत्तियों को अच्छी तरह से बारीक पीस लें। अब इन बारीक पिसी हुई पत्तियों से रस निकाल लें और इस रस को तीन या चार चम्मच की मात्र में पानी में मिलाकर पी लें। ऐसे करने से पीलिया रोग ठीक हो जाएगा।

12. खांसी-जुकाम में फायदेमंद : अगर आपको खांसी-जुकाम या हिचकी बहुत अधिक होती हैं तो आप रसभरी का प्रयोग कर सकते हैं। रसभरी को प्रयोग करने से आप इन सभी समस्याओं को कम कर सकते हैं।

13. कोलेस्ट्रोल में फायदेमंद : बहुत से लोगों को नकारात्मक घटक के बारे में जानकारी होती है इनसे बचने के लिए लोग बहुत से तरीके आजमाते हैं लेकिन कुछ फर्क नहीं पड़ता लेकिन रसभरी खाने से आप खराब कोलेस्ट्रोल की मात्रा को आसानी से नियंत्रित कर सकते हैं।

14. ब्लड प्रेशर में फायदेमंद : अब लोगों को काम की वजह से टेंशन बहुत होती है जिसकी वजह से लोगों को ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है। आप सिर्फ रसभरी के फल से इस समस्या को कम कर सकते हैं क्योंकि रसभरी में बहुत से ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो हाई ब्लड प्रेशर को कम करते हैं।

15. त्वचा में फायदेमंद : आज के समय में बढ़ते प्रदुषण की वजह से त्वचा रुखी और बेजान हो जाती है और त्वचा से संबंधित अनेकों रोग हो जाते हैं। अगर आप भी इस समस्या से परेशान हैं तो आप रसभरी का प्रयोग कर सकते हैं। रसभरी के प्रयोग से आपकी त्वचा रुखी नहीं रहेगी।

रसभरी के नुकसान (Side Effects Of Raspberry In Hindi) :

1. जंगली रसभरी नुकसानदायक : अगर आप जंगली रसभरी को खाने के बारे में सोचते हैं तो जंगली रसभरी को कोई भी खाने की सलाह नहीं देता है।

2. कच्चा रसभरी नुकसानदायक : कभी भी बिना पके रसभरी को नहीं खाना चाहिए क्योंकि कच्चे रसभरी विषैले होते हैं और स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकते हैं।

3. रसभरी से एलर्जी में नुकसानदायक : अगर आपको बाकी की बेरीज से एलर्जी है तो आपको इसे बिना किसी की सलाह के नहीं खाना चाहिए। इसका सेवन करने से पहले आप एक बार डॉक्टर से विचार-विमर्श जरुर कर लें।

4. गर्भवती महिलाओं के लिए : जो महिलाएं गर्भवती होती हैं या स्तनपान करा रही होती हैं उनके लिए रसभरी नुकसानदायक भी हो सकती है इसलिए इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना जरुरी होता है।

No comments:

Post a Comment