जायफल के फायदे और नुकसान-Nutmeg Benefits & Side Effects In Hindi

जायफल (Nutmeg In Hindi)

जायफल और जावित्री को हर घर में भोजन में मसाले के रूप में प्रयोग किया जाता है। जायफल एक छोट सा और गोल आकार का फल होता है। जायफल बहुत ही कठोर होता है ज्यादातर लोग इसे तोड़ नहीं पाते हैं लेकिन वो इसे घिसकर प्रयोग करते हैं। इसकी सुगंध और स्वाद मीठा होता है।

जायफल के बारे में अधिक जानें : जायफल (Jaiphal)

मिरिस्टिका वृक्ष के बीज को जायफल कहते हैं। यह बीज चारों ओर से बीजोपांग (aril) द्वारा ढँका रहता है। यही बीजोपांग व्यापारिक महत्व का पदार्थ जावित्री है। परिपक्व होने पर फल दो खंडों में फट जाता है और भीतर सिंदूरी रंग का बीजोपांग या जावित्री दिखाई देने लगती है। जावित्री के भीतर गुठली होती है, जिसके काष्ठवत् खोल को तोड़ने पर भीतर जायफल (nutmeg) प्राप्त होता है।

जायफल के फायदे (Nutmeg Benefits In Hindi)

1. जुकाम में फायदेमंद : जायफल को पीसकर एक चुटकी की मात्रा में दूध में मिलाकर देने से जुकाम ठीक हो जाता है।

2. अनिंद्रा में लाभदायक : रात को सोने से पहले एक ग्लास गुनगुने दूध में जायफल डालकर पिने से भी नींद न आने की बीमारी ठीक हो जाती है।

3. ह्रदय शक्तिवर्धक में फायदेमंद : ह्रदय की शक्ति को बढ़ाने के लिए एक ग्राम पिसे हुए जायफल की फंकी लेनी चाहिए। ऐसा करने से नाडी की गति ठीक हो जाती है और इससे साथ-साथ घबराहट भी दूर होती है।

4. सर दर्द में फायदेमंद : जायफल को कच्चे दूध में घिसकर लेप बना लें इस लेप को ललाट पर लगाने से सिर दर्द से मुक्ति मिल सकती है।

5. गर्भावस्था की उल्टी में फायदेमंद : अधिकतर महिलाओं को गर्भावस्था के समय उनका जी मचलाने लगता हैं उन्हें पानी में जायफल को घिसकर पिलाने से उल्टी में आराम मिलता है।

6. कमर दर्द में फायदेमंद : जायफल को पानी में घिसकर उसमें थोडा तिल का तेल मिला ले। इसे थोडा सा गर्म कर लें और ठंडा होने पर इसे कमर पर मालिश करें इससे कमर दर्द ठीक हो जायेगा।

7. बच्चों के लिए फायदेमंद : द्दुध में बराबर मात्रा में पानी मिलाकर उसमें एक जायफल को डालकर उबालें। दूध को हल्का गुनगुना करके बच्चे को पिलायें इससे बच्चे को दूध पचने में मदद मिलेगी।

8. नपुंसकता में फायदेमंद : जायफल को घिसकर दूध में मिलाकर हफ्ते में तीन दिन पिलाने से यह बीमारी ठीक हो जाती है। जायफल का प्रयोग यौन शक्ति को बढ़ाने के लिए भी किया जाता है।

9. जोड़ों के दर्द में फायदेमंद : बराबर-बराबर मात्रा में जायफल का तेल और सरसों का तेल मिलाएं और जोड़ों पर इसकी मालिश करें इससे जोड़ों का दर्द बिलकुल ठीक हो जायेगा।

10. रोग-प्रतिरोधक क्षमता में फायदेमंद : इसमें बहुत से आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम जैसे तत्व पाए जाते हैं। जो शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं।

जायफल के नुकसान ( Side Effect Of Nutmeg In Hindi)

  • जायफल को अधिक प्रयोग करने से पेट में गैस और जलन होने लगती है।
  • जब जायफल का अधिक मात्रा में प्रयोग किया जाता है तो यह शराब जैसे नशीले पदार्थ की तरह काम करता है।
  • जायफल के लेप को आँखों में जाने से बचाना चाहिए यह आँखों के लिए खतरनाक होता है।
  • जायफल का अधिक मात्रा में प्रयोग शरीर के लिए हानिकारक होता है।
  • जिनके पेट में सुजन हो उन्हें जायफल का प्रयोग नहीं करना चाहिए यह उनके लिए हानिकारक होता है।
  • जिन लोगों को उच्च रक्त चाप को ठीक करने की दवा लेते हैं उन्हें जायफल नहीं खाना चाहिए।
  • जायफल को अधिक मात्रा में प्रयोग करने से दिल की धडकन बढने लगती है।
  • जायफल का अधिक मात्रा में सेवन करने से चक्कर आने लगते हैं इस स्थिति में आप गाड़ी न चलाएं यह आपके लिए बहुत घातक सिद्ध हो सकता है।
  • जायफल का अधिक मात्र में प्रयोग करने से नसें कमजोर हो जाती है और हाइपोथर्मिया हो जाता है।

No comments:

Post a Comment