नाशपाती (Nashpati) के फायदे और नुकसान-Pear Benefits And Side Effects In Hindi


नाशपाती (Pear In Hindi) :

नाशपाती एक बहुत ही स्वादिष्ट और सेब की तरह दिखाई देने वाला फल है। यह दिखाई देने में हरे रंग का होता है। नाशपाती खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होती है और यह अंदर से सफेद रंग की होती है। नाशपाती का जैविकीय नाम जीनस सेबी है। इसका आकार नीचे से गोल और ऊपर से थोडा सिकुड़ा हुआ सा होता है। यह पेड़ पर एक घंटी की तरह लटका होता है। बहुत से लोगों द्वारा इसे दैवीय उपहार भी समझा जाता है।

नाशपाती के बारे में अधिक जानें : नाशपाती (Nashpati)

नाशपाती का सेवन कैसे करें : नाशपाती को 2 तरीके से सेवन में लिया जाता है नाशपाती का रश निकालकर उसका सेवन करें और कच्ची नाशपाती का सेवन भी कर सकते हैं।

नाशपाती के फायदे (Benefits Of Pear In Hindi) :

1. पाचन तंत्र में फायदेमंद : नाशपाती में फाइबर की बहुत ही अच्छी मात्रा पाई जाती है जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में बहुत मदद करती है।

2. एनीमिया में फायदेमंद : नाशपाती में आयरन की बहुत ही अच्छी मात्रा पाई जाती है जो हिमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ा देता है। ये एनीमिया से ग्रस्त लोगों को लाभ पहुंचाता है।

3. कोलेस्ट्रोल में फायदेमंद : नाशपाती का सेवन करने से आप कोलेस्ट्रोल को कम करने के साथ-साथ बहुत सी बिमारियों से भी छुटकारा पाते हैं।

4. बुखार में फायदेमंद : नाशपाती बहुत ही ठंडा फल है जो हमारे शरीर के तापमान को कम करने अथार्त हमारे बुखार को उतरने में हमारी मदद करता है। बुखार में आप एक गिलास नाशपाती के जूस का सेवन कर सकते हैं।

5. प्रतिरक्षा प्रणाली में फायदेमंद : नाशपाती में एंटी ऑक्सीडेंट और विटामिन सी पाए जाए हैं जो हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बनाए रखने में हमारी मदद करती है।

6. ऊर्जा बढ़ाने में फायदेमंद : इसका सेवन करने से त्वचा में चमक आने के साथ-साथ शरीर को एनर्जी भी देता है क्योंकि इसमें बहुत से पोषक तत्व और विटामिंस पाई जाती हैं जो शरीर को उर्जा देने में मदद करता है।

7. सूजन में फायदेमंद : सूजन में आप नाशपाती के रश का सेवन कर सकते हैं क्योंकि नाशपाती में ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो सूजन के साथ-साथ होने वाले दर्द को भी बहुत कम कर देते हैं।

8. हड्डियों के लिए फायदेमंद : नाशपाती में बोरान नाम का रासायनिक तत्व पाया जाता है जो कैल्शियम को संतुलित बनाए रखने में मदद करता है। इसलिए नाशपाती का सेवन करने से हड्डियों से संबंधित समस्याएं खत्म हो जाती हैं।

9. ब्लड प्रेशर में फायदेमंद : नाशपाती में पौटेशियम और ग्लूटाथिओन जैसे एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में हमारी मदद करते हैं।

10. मधुमेह में फायदेमंद : नाशपाती खून से शुगर की मात्रा को अवशोषित कर लेता है और इसमें मौजूद फाइबर मधुमेह के स्तर को नियंत्रित रखता है।

11. कैंसर में फायदेमंद : नाशपाती में कॉपर और विटामिन सी पाई जाती है जो कैंसर पैदा करने वाले उत्पादों को खत्म कर देती है इसलिए अगर आपको यह संदेह है कि आपको कैंसर है तो आप नाशपाती का नियमित रूप से सेवन करके कैंसर को कम कर सकते हैं।

12. बड़ी आंत को स्वस्थ रखने में फायदेमंद :  नाशपाती में बड़ी आंत को सुरक्षित रखने के साथ-साथ उससे जुडी बिमारियों को दूर करने के गुण भी पाए जाते हैं। इसलिए अगर आपको बड़ी आंत से संबंधित कोई परेशानी हो तो आप नाशपाती का सेवन कर सकते हैं।

13. त्वचा के लिए फायदेमंद : नाशपाती में विटामिन ए और एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं जो त्वचा से कील, मुंहासे, झुर्रियों को कम करने में हमारी मदद करते हैं इसलिए अगर आपको त्वचा से संबंधित कोई परेशानी है तो आप भी नाशपाती का सेवन कर सकते हैं।

14. बालों के लिए फायदेमंद : नाशपाती का सेवन करने से आप बालों की समस्या को कम कर सकते हैं। नाशपाती के सेवन से आप बालों को चमकदार और घना बना सकते हैं।

15. आँखों के लिए फायदेमंद : नाशपाती का सेवन बहुत से रोगों से छुटकारा दिलाने में हमारी मदद करता है। अगर आपको आँखों से जुडी परेशानी है तो आपके लिए नाशपाती का सेवन बहुत ही लाभदायक है।


नाशपाती के नुकसान (Side Effects Of Pear In Hindi) :

1. जल्दबाजी में सेवन : बहुत से लोग जल्दबाजी में इसका सेवन करते हैं जिसकी वजह से नाशपाती के टुकड़े उनके पेट में जाते हैं और पाचन तंत्र पर प्रभाव डालते हैं जिससे पेट दर्द जैसी समस्या हो जाती है इसलिए नाशपाती को आराम से और अच्छी तरह से चबाकर खाना चाहिए।

2. ब्राउन रंग की नाशपाती : बहुत से लोग नाशपाती को काटकर रख देते हैं जिससे नाशपाती में उपस्थित लौह ऑक्साइड से लोहा फैरिक ऑक्साइट के रूप में बदल जाता है और हवा में संपर्क में आने की वजह से नाशपाती ब्राउन रंग का हो जाता है जो खाने में हानिकारक हो सकता है। इसे खाने से आपके स्वास्थ्य पर भी प्रभाव पड़ सकता है।

3. टायफाइड में नुकसानदायक : जिन लोगों को टायफाइड होता है या गला बैठ जाता है उनके लिए नाशपाती का सेवन हानिकारक हो सकता है इसलिए उन्हें नाशपाती का सेवन नहीं करना चाहिए।

4. नाशपाती की जाँच : नाशपाती का सेवन करने से पहले यह अच्छी तरह से जाँच लेना चाहिए कि नाशपाती पकी हुई है या नहीं। अगर नाशपाती पकी नहीं है तो उसका सेवन नहीं करना चाहिए।

5. नाशपाती को रखने का स्थान : नाशपाती को कभी भी किसी भी स्थान पर नहीं रखना चाहिए इसे केवल किसी ठंडे स्थान पर ही रखना चाहिए।

6. खरीदने से पहले जाँच : नाशपाती को खरीदने से पहले जाँच लेना चाहिए कि वह पकी है या नहीं। ऐसा आप छूकर पता लगा सकते हैं क्योंकि नाशपाती पकने के बाद अपना रंग नहीं बदलती है।

No comments:

Post a Comment